साईबर सेल चमोली द्वारा विभिन्न प्रकरणो में साईबर ठगी का शिकार हुए व्यक्तियों के खातो में लौटायी 7 लाख से अधिक रुपये की धनराशि।

साईबर सेल चमोली द्वारा विभिन्न प्रकरणो में साईबर ठगी का शिकार हुए व्यक्तियों के खातो में लौटायी 7 लाख से अधिक रुपये की धनराशि।

गोपेश्वर। जनपद में साइबर ठगी अपराध लगातार बढ़ता जा रहा है। विभिन्न माध्यमो से आजकल साइबर ठग आम लोगो को अलग-अलग प्रकार से अपना शिकार बना रहे है। इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक चमोली प्रमेंद्र डोभाल के निर्देशन में गठित साइबर सेल चमोली ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 7 लोगों को लौटाई धनराशि।

1. शिकायतकर्ता हरेन्द्र सिंह रावत निवासी जोशीमठ द्वारा कोतवाली जोशीमठ को सूचना दी गयी कि उनके द्वारा गूगल पर बैंक कस्टमर केयर नम्बर सर्च किया गया, तथा अज्ञात व्यक्ति द्वारा उन्हें ऐनिडैस्क एप्प डाउनलोड करने हेतु कहा गया एवं एप्प डाउनलोड करने के पश्चात अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनके साथ 8,00000/- रू0 की साइबर ठगी की गयी, उक्त शिकायत पर कोतवाली जोशीमठ एवं साइबर सैल द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए सम्बन्धित कम्पनी से पत्राचार कर तकनीकी सहायता से उक्त व्यक्ति के खाते में 7,00000/- रू0 की धनराशि वापस कराई गयी, शिकायतकर्ता द्वारा जानकारी दी गयी की उनके खाते में उक्त धनराशि आ गयी है एवं साइबर सैल का धन्यवाद किया गया।

2. वादिनी नीलम नेगी निवासी गोपेश्वर द्वारा साइबर सैल चमोली को जानकारी दी गयी कि किसी अन्जान व्यक्ति द्वारा खुद को Meesho Customer Care से बताकर रस्ट डैस्क एप्प डाउनलोड करने को कहा गया । जिससे उनके खाते से रु0 7000 की धनराशि कट गयी। जिसपर साइबर सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए सम्बंधित से पत्राचार कर वादिनी के खाते में रु0 4998 की धनराशि लौटायी गयी ।

3.चन्द्रकला बड़वाल जिनके साथ ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान रु0 13497 की धोखाधड़ी हो गयी थी। जिन्हे साइबर सेल द्वारा संपूर्ण धनराशि उनके खाते में लौटायी गयी।

4.सतीश चन्द्र निवासी गोपेश्वर द्वारा बताया गया कि ऑनलाइन बिजनेस के नाम पर उनके साथ 57511 रुपये की धोखधड़ी की गयी जिस पर साइबर सेल द्वारा कार्यवाही करते हुए 32511 रु0 की धनराशि उक्त को लौटायी गयी।

5- जुलाई माह में सुशीला देवी द्वारा बताया गया कि किसी अज्ञात कॉल द्वारा उनका परिचित बनकर उनके साथ 22048 की धोखाधड़ी की गयी। साइबर सेल द्वारा संबंधित से पत्राचार करते हुए पूरी धनराशि उनके खातों में लौटायी गयी।

धोखाधड़ी की रकम वापस मिलने पर पीडितों द्वारा साइबर सेल की सराहना करते हुए बताया गया कि हमें उम्मीद नहीं थी कि हमारा पैंसा वापस मिलेगा परन्तु साइबर सेल टीम द्वारा त्वरित औऱ समयबद्ध कार्यवाही कर हमें न्याय दिलाया गया। जिस पर पीडितों ने चमोली पुलिस को धन्यवाद ज्ञापित किया है।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *