गोपेश्वर: सांसद तीरथ सिंह रावत ने ली जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक।

केंद्र समेत सभी योजनाओं को गुणवत्ता के साथ समय से पूरे हों: सांसद तीरथ रावत।

गोपेश्वर ।

गढवाल सांसद व पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने गुरुवार को जनपद चमोली में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक लेते हुए केंद्र पोषित योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने सभी जन प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों को आपसी सामंजस्य बनाकर गुणवत्ता के साथ संचालित कार्यो को पूर्ण कराने के निर्देश दिए।

सांसद तीरथ सिंह रावत ने केन्द्र पोषित योजनाओं के तहत मनरेगा, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, पीएम आवास, पीएमजीएसवाई सड़क, जल जीवन मिशन, दीन दयाल ग्राम ज्योति, पीएम फसल बीमा, स्वच्छ भारत मिशन, सर्व शिक्षा, सामाजिक पेंशन आदि योजनाओं की समीक्षा की। जिले में केन्द्र पोषित योजनाओं की अच्छी प्रगति प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने आपसी समन्वय से विकास कार्यो में तेजी लाने के निर्देश दिए।कहा कि जल जीवन मिशन में धनराशि की कोई कमी नहीं है। हर गांव एवं तोक में प्रत्येक घर को पानी पहुंचाने का काम किया जाए। पेयजल निर्माण हेतु गठित डीपीआर ग्राम पंचायत को भी उपलब्ध कराए। जिन गांव-घरों से कनेक्शन नहीं मिलने की शिकायत आ रही है वहां पर तत्काल जांच की जाए। उन्होंने पीएमजीएसवाई, लोनिवि एवं राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों को गुणवत्ता के साथ समय पर सड़कों का निर्माण पूरा करने के निर्देश दिए। कहा कि जिन कार्यो का टेंडर नही हुआ है उनका तत्काल टेंडर किया जाए। विकसित भारत संकल्प यात्रा के बाद भी उज्जवला योजना के जो पात्र व्यक्ति छूट गए है, उनको शीघ्र गैस कनेक्शन वितरित किए जाए। शहरों में पीएम आवास निर्माण कार्यो को तेजी से पूरा किया जाए। बैठक में समिति के सदस्यों द्वारा देवाल ब्लाक के मोहपाटा में सड़क निर्माण और बेमरू में आंगनबाडी भवन से जुड़ी शिकायत रखने पर सांसद ने मुख्य विकास अधिकारी को जांच कराने के निर्देश भी दिए।

जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने सांसद को जिले में संचालित केन्द्र पोषित योजनाओं की प्रगति से अवगत कराया। बताया कि मनरेगा में इस वर्ष 14.66 लाख मानव दिवस सृजन लक्ष्य के सापेक्ष माह दिसंबर तक 12.32 लाख मानव दिवस सृजित कर लिए गए है। दीन दयाल अंत्योदय योजना के तहत गठित चार हजार से अधिक समूहों में से 2311 का बैंक लिंकेज के साथ ही रिवाल्विंग फंड भी दिया गया है। पीएम आवास ग्रामीण के तहत विगत वर्ष में 1794 में से 1607 आवास पूर्ण हो गए है और इस वर्ष 2149 आवास निर्माण का लक्ष्य है। जबकि पीएम आवास शहरी में 1445 में से 1233 आवास पूर्ण हो गए है। जल जीवन मिशन के अन्तर्गत 99.65 प्रतिशत कार्य पूर्ण कर लिए गए है। इस दौरान जिलाधिकारी ने अन्य केन्द्र पोषित योजनाओं की प्रगति से भी विस्तार में अवगत कराया। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को सांसद द्वारा दिए गए निर्देशों का पूरी तरह से अनुपालन सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *