चमोली: जिलाधिकारी ने जल संरक्षण एवं संवर्धन के तहत कार्यो की समीक्षा की, सभी विभागों को गम्भीरता से लेते हुए समय पर पूर्ण करने के दिए निर्देश।

चमोली: जिलाधिकारी ने जल संरक्षण एवं संवर्धन के तहत कार्यो की समीक्षा की, सभी विभागों को गम्भीरता से लेते हुए समय पर पूर्ण करने के दिए निर्देश।

गोपेश्वर: जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने बुधवार को क्लेक्ट्रेट सभागार में मुख्यमंत्री जल संरक्षण एवं संवर्धन के तहत संचालित कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने सभी विभागों को जल संरक्षण एवं संवर्धन कार्यो को गंभीरता से लेते हुए समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए। साथ ही पूर्व में जल संवर्धन हेतु किए गए कार्यो का विश्लेषण करते हुए के योजनाओं का क्रियान्वयन करने के निर्देश दिए। कहा कि चाल खाल, खंती, चेकडैम और जल संग्रहण संरचनाओं के निर्माण हेतु विभागों को जो लक्ष्य दिए गए हैं उनको शीघ्र पूरा करें।

सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियन्ता अरविन्द नेगी ने बताया कि मुख्यमंत्री जल संरक्षण, जलसंर्वद्धन अभियान में क्लस्टर एप्रोच के तहत जनपद में10 मॉडल विेलेज मजोठी, मण्डल, उदयपुर(देवाल),नागली, गुलाडी, थैंग, डिम्मर, गैरबारम, भिकोना तथा सूना विकसित किए जा रहे हैं जिनमें मनरेगा, लघु सिंचाई, कृषि, उद्यान मत्स्य, जलसंस्थान तथा पंचायतीराज विभाग के साथ मिलकर जल संरक्षण एवं संवर्धन के कार्य किए जा रहे हैं।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ ललित नारायण मिश्र, डीएफओ इन्द्र सिंह नेगी, डीएफओ सर्वेश दुबे, डीडीओ केके पन्त सहित कृषि, उद्यान, पेयजल, सिंचाई, शिक्षा, पंचायती राज एवं नगर निकायों के अधिकारी उपस्थित थे।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *