गोपेश्वर: नवजात शिशुओं को पोलियो प्रतिरक्षण खुराक पिलाकर किया कार्यक्रम का उद्घाटन।*

*नवजात शिशुओं को पोलियो प्रतिरक्षण खुराक पिलाकर किया कार्यक्रम का उद्घाटन।*

गोपेश्वर।
पोलियो दिवस के अवसर अपर जिलाधिकारी विवेक प्रकाश एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा राजीव शर्मा ने जिला चित्सालय गोपेश्वर में नवजात शिशुओं को पोलियो खुराक पिलाकर पोलियो प्रतिरक्षण अभियान का शुभारम्भ किया।

अपर जिलाधिकारी ने भारत को पोलियो मुक्त बनाने के लिए देश के स्वास्थ्य तथा चिकित्सा कर्मचारियों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि पोलियो दिवस पर जनपद में शून्य से 5 वर्ष के 38355 बच्चों को पोलियो प्रतिरक्षण दवा पिलाने का लक्ष्य है। किसी कारण से जो बच्चे आज छूट जाएंगे उन्हें 4 व 5 मार्च को घर-घर जाकर दवा पिलाई जाएगी। उन्होंने स्वास्थ्य कार्मिकों को शुभकामनाएं देते हुए कार्यक्रम को सफल बनाने की बात कही।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा राजीव शर्मा ने कहा कि वर्ष 2014 में भारत को पोलियो मुक्त देश घोषित किया गया है, लेकिन हमारे पड़ोसी देशों में पोलियो के मामले होने के कारण नियमित अन्तराल में प्रत्येक बच्चे को पोलियो की खुराक पिलाना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक बच्चे को इस अभियान के तहत कवर करने के लिए उनके घर द्वार के समीप 608 पोलियो प्रतिरक्षण केन्द्र बनाए गए हैं। इसके अतिरिक्त, बस अड्डों, जिलों की सीमाओं तथा अन्य महत्वपूर्ण जन स्थलों पर भी 05 ट्राजिट बूथ बनाए गए है। पोलियो प्रतिरक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ करने के बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजीव शर्मा ने कुंजो मैकोट व देवर-खडोरा में पोलियो बूथों का निरीक्षण भी किया।

पोलियो प्रतिरक्षण कार्यक्रम के उद्घाटन के दौरान प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 अनुराग धानिक, प्रभारी प्रसवोत्तर केंद्र गोपेश्वर डॉ0 कुसुम पंखोली, जिला सहायक प्रतिरक्षण अधिकारी रचना, मंजू रानी, रजनी डिमरी, उदय सिंह रावत, महेश देवराड़ी, रंजीत रावत, आस्था तिवारी एवं बूथ सदस्य मौजूद थे।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed