पुलिस उपाधीक्षक प्रमोद शाह ने थाना नन्दानगर में किया जन संवाद।

पुलिस उपाधीक्षक चमोली द्वारा थाना नन्दानगर में किया गया जन संवाद।

थाना नन्दानगर का अर्द्धवार्षिक निरीक्षण कर अधीनस्थों को दिए अवाश्यक दिशा निर्देश।

गोपेश्वर।
आज दि0 30.11.23 को पुलिस उपाधीक्षक चमोली प्रमोद शाह द्वारा थाना नन्दानगर क्षेत्र के सभ्रान्त व्यक्तियों, टैक्सी यूनियन, व्यापार संघ के पदाधिकारियों व ग्राम प्रधान के साथ जन संवाद किया गया। इस दौरान थानाध्यक्ष उ0नि0 श्री राजेश सिंह मौजूद रहे। पुलिस उपाधीक्षक द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों से पिछले एक वर्ष से स्थापित थाने के कार्यों व क्षेत्र की कानून एवं शान्ति व्यवस्था के संबंध में विस्तृत चर्चा की गयी। स्थानीय नागरिकों ने पिछले साल भर में थाना नंदा नगर के जन सहयोगी कार्यों की सराहना कर पुलिस का आभार व्यक्त किया । उपस्थित सभी गणमान्य व्यक्तियों द्वारा जाम एवं क्षेत्र में पार्किग की व्यवस्था न होने को बड़ी समस्या बताया।

जिसके लिए पुलिस उपाधीक्षक द्वारा दिसम्बर माह के प्रथम सप्ताह में प्रशासन, व्यापार संघ एवं टैक्सी यूनियन के पदाधिकारियों के साथ गोष्ठी आयोजित कर समस्या का सामाधान निकालने हेतु आश्वसत किया गया। उपस्थित जनों से शान्ति/कानून व यातायात व्यवस्था बनाये रखने हेतु स्थानीय पुलिस को सहयोग करने की अपील की गयी।

उक्त जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान अध्यक्ष व्यापार मण्डल श्री नन्दन सिंह रावत, अध्यक्ष टैक्सी यूनियन श्री बलवन्त सिंह, महामंत्री व्यापार संघ श्री सुमित्रा मणी सती, विधिक सेवा सदस्य श्री मथुरा प्रसाद सहित विभिन्न गाँवो के ग्राम प्रधान मौजूद रहे।

जनसंवाद के उपरान्त थाने का निरीक्षण कर अधीनस्थों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश:-

थाना निरीक्षण के दौरान महोदय द्वारा थाना परिसर, थाना कार्यालय, सीसीटीएनएस कार्यालय, महिला हेल्प डेस्क, मालाखाना, शस्त्र, आपदा उपकरणों व भोजनालय आदि की साफ-सफाई/रखरखाव का निरीक्षण करते हुए सम्बन्धित कर्मचारी को साफ-सफाई में विशेष ध्यान देने हेतु निर्देशित किया गया।

निरीक्षण में थाना/सीसीटीएनएस कार्यालय के समस्त अभिलेखों का बारीकी से निरीक्षण कर कार्यालय स्टाफ को अध्यावधिक रखने, सीसीटीएनस कार्यो का अवलोकन कर सम्बन्धित कर्मियों को सभी ऑनलाइन पोर्टलो/उत्तराखण्ड पुलिस एप में प्राप्त शिकायतों/चरित्र सत्यापनों आदि में भी ससमय कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। थाने में लगे सीसीटीवी कैमरों का निरीक्षण कर सभी को कार्यशील दशा में रखने तथा महिला हेल्प डेस्क रजिस्टर व 112 की सूचनाओं से सम्बन्धित रजिस्टरों का अवलोकन कर रजिस्टर अपडेट रखने व डायल 112 में प्राप्त सूचनाओं पर तत्काल कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया।

महिला हेल्प डेस्क में नियुक्त कार्मिकों को थाने में आने वाले आगन्तुकों/शिकायतकर्ताओं के साथ शालीनता पूर्वक व्यवहार करने तथा उनकी समस्याओं का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश भी दिये गये।

लम्बित माल/मुकदमाती वाहनों की समीक्षा कर निस्तारण हेतु निर्देशित किया गया तथा लम्बित विवेचनाओं में शीघ्र साक्ष्य संकलन की कार्यवाही पूर्ण कर निस्तारण करने के निर्देश दिये गये।

लम्बित शिकायतों/जांच प्रार्थना पत्रों का निस्तारण करने व मा0 न्यायालय से प्राप्त अहकमातों को शत-प्रतिशत तामील कराने हेतु निर्देशित किया।

थाना क्षेत्र में स्कूल, कॉलेज व गाँवों में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कर आमजनमानस को उत्तराखण्ड पुलिस एप, गौरा शक्ति एप, बाल अपराध, महिला अपराध, साइबर क्राइम, हेल्पलाइन नम्बर डायल 112, 1090, 1930 आदि के सम्बन्ध में जानकारी प्रदान कर अधिक से अधिक जागरूक करने हेतु थानाध्यक्ष को दिशा-निर्देश दिए गए।

थाने पर उपस्थित सभी अधि0/कर्म0गणों से उनकी समस्याएं पूछी गयी तथा निराकरण हेतु आश्वासन दिया गया। कर्मचारियों को प्रभावी बीट पुलिसिंग हेतु निरन्तर अपने बीट क्षेत्र में सक्रिय रहकर जनसमस्याओं का निराकरण करने व अधिक से अधिक निरोधात्मक कार्यवाही करने तथा अपने बीट क्षेत्र की समस्त जानकारी रखने हेतु निर्देशित किया गया।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed